प्रदेश को आज 24 लाख उपभोक्ताओं को लग सकता है करंट,बिजली की नई दरों पर आएगा विद्युत नियामक आयोग का फैसला

प्रदेश को आज 24 लाख उपभोक्ताओं को लग सकता है करंट,बिजली की नई दरों पर आएगा विद्युत नियामक आयोग का फैसला

हिमाचल जनादेश ,शिमला (ब्यूरो )

बिजली उपभोक्ताओं को आज बड़ा झटका लग सकता है। प्रदेश में बिजली की नई दरें आज तय होंगी और सभी करीब 24 लाख उपभोक्ताओं पर इन्हें पहली अप्रैल से लागू कर दिया जाएगा। बिजली की दरें बढ़ाने के प्रस्ताव पर विद्युत नियामक आयोग को फैसला करना है।

बिजली बोर्ड ने आयोग के पास 90 पैसे प्रति यूनिट बिजली की दरें बढ़ाने का प्रस्ताव दिया है। इसके अलावा वाटर सेस लगने के बाद बिजली की दरों में होने वाले इजाफे को भी इसमें जोडक़र देखा जा रहा है।

हालांकि वाटर सेस का भार उपभोक्ताओं पर न पड़े इसे लेकर विद्युत नियामक आयोग और प्रदेश सरकार के साथ वार्तालाप कर चुके हैं। सदन में उपमुख्यमंत्री मुकेश अग्निहोत्री ने भी उपभोक्ताओं को इस बोझ से अलग रखने की बात कही है। ऐसे में राज्य सरकार सबसिडी के तौर पर उपभोक्ताओं को राहत देने का कदम उठा सकती है।

एक नजर इधर भी – उत्तराखंड में हादसे में उजड़ा सुहाग,गर्भवती पत्नी से मिलने आ रहे पति की मौत,पावंटा साहिब अस्पताल में भर्ती महिला

वाटर सेस और बिजली बोर्ड के 90 पैसे प्रति यूनिट के प्रस्ताव के बाद बिजली की नई दरों में 1.90 रुपए तक की बढ़ोत्तरी होती है तो राज्य सरकार इस व्यवस्था में एक रुपए तक सबसिडी का फैसला कर सकती है। ऐसे हालात में प्रदेश के उपभोक्ताओं पर 90 पैसे प्रति यूनिट तक का भार पड़ता नजर आएगा।

गौरतलब है कि बिजली बोर्ड ने दरों में 90 पैसे प्रति यूनिट बिजली की बढ़ोतरी का प्रस्ताव विद्युत नियामक आयोग को भेजा है। विद्युत नियामक आयोग इस प्रस्ताव पर जनसुनवाई कर चुका है।

अब जनसुनवाई पूरी होने के बाद आयोग शुक्रवार को बिजली की नई दरों पर फैसला लेगा। ताकि इस फैसले को आगामी वित्तीय वर्ष की शुरुआत से लागू किया जा सके।

इस बार विद्युत नियामक आयोग में बड़े स्तर पर वाटर सेस से पडऩे वाले अतिरिक्त भार को लेकर भी चर्चा की गई है और राज्य सरकार के समक्ष प्रस्ताव भेजे गए हैं। अब राज्य सरकार को सबसिडी पर फैसला करना है।

Leave a Reply